attitude shayari

307+ Best Ghamand Quotes In Hindi |खूबसूरती का घमंड शायरी

वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता है !!
जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूढ़ता है !!

गलत मत समझना मेरी जरूरत हो तुम !!
गुरूर मत करो कि बहुत खूबूसरत हो तुम !!

daulat ka ghamand shayari, ghamand ke upar shayari, ghamand ki shayari, ghamand par shayari, ghamand shayari, ghamand shayari hindi, ghamand shayari in english, ghamand shayari in hindi, ghamand wali shayari, paise ka ghamand shayari, paiso ka ghamand shayari, rishte ghamand shayari

हमेशा रहना चाहिए एहसानमंद !!
क्या फायदा होता करके घमंड !!

जब काटने वाले भी चाटने लगे !!
तो समझ जाना की वक्त तुम्हारा है !!

यदि सहने की हिम्मत रखता हूं !!
तो तबाह करने का हौसला भी रखता हूं !!

तेरी अकड़ दो दिन की कहानी हैं !!
मेरा गुरूर तो खानदानी हैं !!

अगर आप बड़े बनना चाहते हैं !!
तो घमंड छोड़िए सबसे बड़े लोग हमेशा विनम्र रहते हैं !!

जब आप खुद को सबसे बेहतर समझने लगते हैं !!
तो घमंड का समय आ गया है !!

मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत हैं इस दुनिया में !!
बाद में पता चला की सब चाहते हैं अपनी जरूरत के लिए !!

घमंड विमान की तरह आसमान में उड़ता है जरुर !!
पर वक्त आने पर टूटते तारे की तरह गिरता है !!

Jigri Yaar Status in Hindi | जिगरी यार स्टेटस

Ghamand Quotes In Hindi

मुझे तलाश है जो मेरी रुह से प्यार करे !!
वरना इन्सान तो पैसों से भी मिल जाया करते हैं !!

औकात की बात मत कर ‪ऐ दोस्त !!
लोग तेरी ‪बंदूक से ज्यादा मेरी मूँछ से डरते हैं !!

आप जिन्दगी में जितने अच्छे बनोगे !!
उतने ही घटिया लोग मिलेंगे !!

मत कर इतना घमंड बहुत पछताएगा !!
एक दिन खुद ही अपनी नजरो में गिर जाएगा !!

हाथों की लकीरों पे मत जा ऐ गालिब !!
नसीब उनके भी होते हैं जिनके हाथ नहीं होते !!

उच्च स्थान पर पहुँचना या बड़ा बनना एक उत्कृष्ट स्थिति है !!
लेकिन इसमें घमंड नहीं होना चाहिए !!

घमंड व्यक्ति को छोटा बना देता है !!
क्योंकि उसे खुद की बड़ाई दिखाई नहीं देती !!

अपनी ताक़त को दिखाने के लिए घमंड की आवश्यकता नहीं होती !!
व्यक्ति अपने कर्मों से ही साबित कर सकता है !!

घमंड उसका सबसे बड़ा दुश्मन होता है !!
जो खुद को सबसे बड़ा मानता है !!

अच्छे काम करो लोग स्वयं ही तुम्हें बड़ा बना देंगे !!
घमंड करने की जरूरत नहीं है !!

Ghamand Quotes

अहंकार और घमंड का सिर्फ एक ही इलाज है !!
समझदारी और हमिलत !!

अगर तुम्हें अच्छा लगता है !!
कि तुम सबसे बेहतर हो !!
तो तुम और सबसे बेहतर नहीं हो सकते !!

जब आप दूसरों को नीचा देखने लगते हैं !!
तो ध्यान दें आप खुद ही उच्च स्थान से नीचे गिर रहे !!

घमंड नहीं मुझे खुद पर !!
बस कुछ रिश्तो ने खामोश रहना सिखा दिया !!

सिर्फ इज्जत करने का नही !!
उतारने का भी हुनर है !!

अपनी ताक़त को समझो !!
लेकिन घमंड में मत खो जाओ !!

घमंड तब होता है !!जब हम अपनी सच्चाई को भूल जाते हैं !!
और खुद को अधिक महत्वपूर्ण मानते हैं !!

उच्च स्थान से गिरना आसान है !!
लेकिन उच्चता में रहना कठिन !!

अगर आपके अंदर दम है !!
तो आपको घमंड की आवश्यकता नहीं होती !!

घमंड उस इंसान की कमजोरी होता है !!
जो खुद को बढ़ावा देने के लिए दूसरों को नीचा दिखाता है !!

Ghamand shayari

वक्त और किस्मत पर कभी घमंड ना करो !!
सुबह उनकी भी होती है जिन्हे कोई याद नही करता !!

घमंड का पारा जब सर चढ़ जाता है !!
इंसान अपनी हद से आगे बढ़ जाता है !!

बारिश को होता है यकीन पानी की बूंद पर !!
भरोसा रखना मगर घमंड ना करना खुद पर !!

मत कर इतना घमंड बहुत पछताएगा !!
एक दिन खुद ही अपनी नजरो में गिर जाएगा !!

कुछ लोग अपने घमंड की वजह से !!
ना जाने कितने रिश्तों को खो देते हैं !!

हम को खरीदने की कोशिश मत करना !!
हम उन पुरखो के वारिस है !!
जिन्हो ने ‪‎मुजरे में हवेलिया दान कर दी थी !!

ज़रूरत तोड़ देती हैं इंसान के घमंड को !!
अगर न होती मजबूरी तो हर बंदा खुदा होता !!

घमंड न कर बंदे अपने वक़्त का !!
क्योंकि बदलता है ये हर शख्स का !!

टूट ही जाता है यक़ीन प्यार में साथी पर !!
कितना करोगी घमंड अपनी खूबसूरती पर !!

उस ग़रीब को अपने परिवार के लिए लड़ते देखा है मैंने !!
जीवन में पहली बार डर को भी डरते हुए देखा है मैंने !!

Rishte ghamand shayari

लाखों ठोकरों के बाद भी संभलता रहूँगा मैं !!
गिरकर फिर उठूँगा और चलता रहूँगा मैं !!

कोई भी हमें पहचान नहीं पाया !!
कुछ अंधे थे कुछ अँधेरे में थे !!

इज्जत कम हो जाये चाहे या शान कम हो जाये !!
मगर इंसान का घमंड कम नही होना चाहये !!

सब जानते है उसका घमंड एक दिन मिट जाएगा !!
फिर भी लोग कहते है जो होगा देखा जाएगा !!

घमंड जब घुसा इंसान के शरीर में !!
इंसान झुकने की कोशिश भी खड़े-खड़े करने लगा !!

घमंड में हस्तियाँ और तूफान में कश्तियाँ !!
अक्सर डूब जाया करती हैं जनाब !!

बहुत प्यार हैं मुझेअपनी माँ के हाथो से !!
न जाने कितने बारमुझे गिरते गिरते बचाया होगा !!

आग लगा देंगे उस महफ़िल में !!
जहाँ बगावत हमारे खिलाफ होगी !!

घमंड इतना मत कर !!
कि तू खुद से ही दूर हो जाए !!

अगर घमंड अच्छा होता !!
तो सभी राजा ही होते !!

King Shayari In Hindi | किंग स्टेटस इन हिंदी

Ghamand shayari in hindi

जब तक घमंड नहीं छोड़ोगे !!
तब तक सच्चाई दिखाई नहीं देगी !!

कमजोर पड़ जाएँ एक ईटतो टूट जाता है दीवार !!
रोजगार पाने के चककरछूट जाता है परिवार !!

इंसान आजकल इसलिए भी परेशान है !!
क्योंकि जो गर्मी रिश्तों में होनी चाहिए वो हमारे दिमाग़ में है !!

जिनमें कुछ नहीं होता है ना !!
उनमें घमंड बहुत होता है !!

अगर रिश्तों को निभाना है तो झुकना सीखो !!
क्योंकि इंसान अकड़ता तो मरने के बाद है !!

घमंड किस बात का है जनाब !!
आज मिट्टी के ऊपर हैं तो कल मिट्टी के नीचे होंगे !!

घमंड से आदमी फूल सकता है !!
फल नहीं सकता !!

गुरूर के भी अजब हैं किस्से !!
आज मिट्टी के ऊपर कल मिट्टी के नीचे !!

सोचना हैं तो सिर्फ परिवार के लिए !!
और कमाना हैं तो सिर्फ परिवार के लिए !!

आसमा इतनी बुलंदी पे जो इतराता है !!
भूल जाता है कि ज़मीन से नज़र आता है !!

Ghamand wali shayari

वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता हैं !!
जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूढ़ता हैं !!

यूँ बदस्तूर जीना जारी तो रहा !!
लेकिन तू नहीं फिज़ा नहीं बयां नहीं निशां नहीं !!

घमण्ड किसी का नही रहा टूटने से पहले !!
गुल्लक को भी लगता था सारे पैसे उसी के है !!

यूं मुझे एसे और सबर ना करवा !!
तेरी राह देखते कोई मेरी कबर ही ना तैयार करवा दें !!

ज़रूरत तोड़ देती हैं इंसान के घमंड को !!
अगर न होती मजबूरी तो हर बंदा खुदा होता !!

सुन्दर दिल वाले से प्यार करना चाहिए !!
अक्सर खूबसूरत चेहरे के पीछे घमंड छिपा होता है !!

मेहनत करने वाले !!
व्यक्ति को घमंड नहीं होता है !!

बोल दिया होता तुम्हे दर्द देना है ऐ ज़िंदगी !!
मोहब्बत को बीच में लाने की क्या जरुरत थी !!

मुझे घमण्ड था अपने चाहने वालो का इस दुनिया में !!
वक्त क्या पलट गया सब की असलियत सामने आ गई !!

तोड़ना हीं है अगर तो घमण्ड तोड़ना !!
रिश्तें तो ग़लतफहमी में भी टूट जाते हैं !!

Ghamand par shayari

मुझे तलाश है जो मेरी रुह से प्यार करे !!
वरना इन्सान तो पैसों से भी मिल जाया करते हैं !!

मैंने उनका गुरूर कुछ ऐसे तोड़ दिया !!
आँखों को चूमा उनकी और होठों को छोड़ दिया !!

लगता है तुमने खुद को मेरी नजरो से देख लिया !!
तभी तो इतना घमण्ड लिए घूम रहे हो !!

उनके जेहन में घमंड का आना लाज़मी था !!
हमनें प्यार ही इस कदर किया था !!

मुझे घमंड था की मेरे चाहने वाले बहुत है इस दुनिया में !!
बाद में पता चला की सब चाहते है अपनी ज़रूरत के लिए !!

अपनी गृहस्थी को कुछ इस तरह बचा लिया करो !!
कभी आँखें दिखा दी कभी सर झुका लिया करो !!

मत कर इतना घमंड बहुत पछताएगा !!
एक दिन खुद ही अपनी नजरो में गिर जाएगा !!

घमंड शायरी हिंदी
वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता हैं !!
जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूढ़ता हैं !!

घमंङ में हस्तियाँ और तूफान में कश्तियाँ !!
अक्सर डूब जाया करती हैं जनाब !!

केवल अहंकार ही ऐसी दौड़ है !!
जहाँ जीतने वाला हार जाता है !!

Ghamand shayari hindi

घमंड तो उस इंसा को भी नहीं होता !!
जब कोई अवॉर्ड जीतता है तो वो भी झुक्कर लेता है !!

मैं एक हाथ से सारी दुनिया के साथ लड़ सकता हूँ !!
बस मेरा दुसरा हाथ तेरे हाथ में होना चाहिए !!

मुझसे किसी का दिल नहीं तोड़ा जाता !!
पर हाँ घमंड तोड़ने का हुनर है मुझमें !!

चाय के शौकीन हो तो क्या !!
यूं बात-बात पे उबालना अच्छा तो नहीं !!

घमंड नहीं मुझे खुद पर !!
बस कुछ रिश्तो ने खामोश रहना सिखा दिया !!

अपने किरदार का किरायदार कभी गुरूर को मत बनाना !!
नहीं तो तुम उसके नहीं वो तुम्हारा मालिक बन जाएगा !!

खुद के अंदर भी सबसे अलग एट्टीट्यूड रखना चाहिए !!
क्योंकि लोग ego में ज्यादा रहते हैं !!

लो सनम मैं आ गया तेरे शहर में !!
दुनिया दुश्मन बना ली मैंने तेरे प्यार में !!

जिसके पास कुछ नहीं होता हैं !!
उसको घमंड ज्यादा होता हैं !!

भटके हुए फिरते हैं कई लफ्ज़ जो दिल में !!
दुनिया ने दिया वक़्त तो लिखेंगे किसी दिन !!

Ghamand ki shayari

खुद को बुरा कहने की हिम्मत नहीं !!
इसलिए वो कहते है ज़माना ख़राब हैं !!

सब जानते है उसका घमंड एक दिन मिट जाएगा !!
फिर भी लोग कहते है जो होगा देखा जाएगा !!

यदि सफल होना चाहते हो तो
पहले घमण्ड का नाश कर डालो !!

कहीं का ग़ुस्सा कहीं की घुटन उतारते हैं !!
ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे फ़न उतारते हैं !!

कहीं का ग़ुस्सा कहीं की घुटन उतारते हैं !!
ग़ुरूर ये कि हम काग़ज़ पे फ़न उतारते हैं !!

न तेरी शान कम होती न रूतबा घटा होता !!
जो गुस्से में कहा वही हंस के कहा होता !!

बहुत घमंड भी था मुझे तुम्हारा होने का !!
पर घमंड था ना एक दिन टूटना ही था !!

घमण्ड एक ऐसी दीमक है !!
जो आपके सभी रिश्तों को खा जाएगी !!

गुरुर में आ के किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है !!
माफ़ी माँग के वही रिश्ता निभाया जाए !!

ज़रूरत तोड़ देती हैं इंसान के घमंड को !!
अगर न होती मजबूरी तो हर बंदा खुदा होता !!

Maa Papa Quotes in Hindi | माता पिता पर शायरी

Paise ka ghamand shayari

मैं अन्धेरा हूं तो अफसोस क्यूं करूं !!
मुझे गुरूर है रोशनी का वजूद मुझसे है !!

तेरी अकड़ दो दिन की कहानी हैं !!
मेरा गुरूर तो खानदानी हैं !!

पत्थर की तरह ना बनाओ खुद को !!
किसी भी दीवार में चुने जा सकते हो !!

बहुत हुआ अब मस्ती से जी लेने दो !!
अब बर्दाश् नहीं होता इसलिए दूरियां बनाने दो !!

सच्चा बल तब होता है !!
जब व्यक्ति अपनी ताक़त को दिखाने के लिए नहीं !!
बल्कि दूसरों की मदद करने के लिए इस्तेमाल करता है !!

इंसान के पास दिमांग जितना कम होता है !!
घमंड उतना ही ज्यादा होता है !!

हम खुदा से उस शक्स को पाने की दुआ कर बैठे है !!
जिसे खुद के होने पे हीइतना घमंड है !!

खुदा जब हुस्न देता है तो !!
नज़ाकत आ ही जाती है !!

वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता हैं !!
जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूढ़ता हैं !!

घमंड और पेट जब ये दोनों बढ़तें हैं !!
तब इन्सान चाह कर भी किसी को गले नहीं लगा सकता !!

Paiso ka ghamand shayari

किरदार में मेरे भले अदाकारियाँ नहीं हैं !!
खुद्दारी हैं गुरूर हैं पर मक्कारियाँ नहीं हैं !!

वक्त और किस्मत पर कभी घमंड ना करो !!
सुबह उनकी भी होती है जिन्हे कोई याद नही करता !!

ना जाने कितने रिश्ते खत्म कर दिए इस भरम ने !!
कि मैं सही हूँ सिर्फ मैं ही सही हूँ !!

लोगो को मतलबी रिश्ते बनाने में बहुत मज़ा आता है !!
मतलब निकलने के बाद आनाजाना ही बंद कर देते हैं !!

सुना है काफी पढ़ लिख गए हो !!
तुम कभी वो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते !!

घमंड से हर कोई दूर होता है !!
एक ना एक दिन तो घमंड चूर होता है !!

घमंड के उजालों में कुछ इस कदर गुमनाम हुए !!
मानो खुद के बनाए हुए बाज़ारों में नीलाम हुए !!

उसके गुरूर का हमने भी अजब इलाज किया !!
पहले नजरे मिलाई फिर नजर अंदाज किया !!

बहुत घमंड है तुझे हुस्न का !!
ये हुस्न तो एक दिन ढल जाएगा !!
जब घमंड दूर होगा तेरा !!
आशिक तेरा कहीं और निकल जाएगा !!

वक्त और किस्मत पर कभी भी !!
घमंड मत करना साहब क्योकि !!
जब भी ये बदलते हे तो हमारा !!
सब कुछ बदल कर रख देते हैं !!

Ghamand shayari in english

आपकी बातों का असर उतना ही रहता है !!
जितना आपके आदर्शों और कृतियों का !!
घमंड नहीं नम्रता हमें अच्छा बनाती है !!

चेहरे पर हंसी छा जाती हैं !!
आँखों में सुरूर आ जाता हैं !!
जब तुम मुझे अपना कहते हो !!
मुझे खुद पर गुरूर आ जाता हैं !!

सिर्फ सुख मे तो पराए भी साथ देते है !!
लेकिन दुख मे जो काम आते है !!
वही परिवार कहलाता हैं !!

अजनबी दुनिया की उलझी हुई से राहों में !!
जाने कैसे फंस गई रिश्तों की गुफाओं में !!
मेरी साँसों पर भी मेरे अपने हक़ जताते हैं !!
बहुत घुटन हैं मेरे आशियाने की हवाओं में !!

जब जब परिवार से दूर हुआ !!
तब तब बहुत दुखी हुआ !!
न जाने कैसा चैन मिलता हैं !!
परिवार के साथ जो कभी !!
महसूस नहीं किया किसी और के साथ !!

न मेरा एक होगा न तेरा लाख होगा !!
न तारीफ़ तेरी न मेरा मजाक होगा !!
गुरूर न कर शाह-ए-शरीर का !!
मेरा भी खाक होगा तेरा भी ख़ाक होगा !!

वक्त तो सबका बदलता रहता है !!
इस पर घमण्ड क्या करना कुर्सी तो वही रहेगी !!
बस आने जाने वाले लगे रहेंगे !!

मै जानता था !!
तुझे दौलत का घमंड जरूर होगा !!
पर ध्यान रखना एक दिन तुझे !!
वक़्त के कदमो मे आना ही पड़ेगा !!

वक्त तो सबका बदलता रहता है !!
इस पर घमंड क्या करना !!
कुर्सी तो वही रहेगी !!
बस आने जाने वाले लगे रहेंगे !!

सुना है दौलत वालों की उनके घमंड से !!
महफिलें सुनी सुनी रह जाती है !!
एक बार घमंड दूर करके तो देखो जनाब !!
फिर देखना वही सुनी सुनी महफिलें कैसे भर जाती है !!

Daulat ka ghamand shayari

जब घमंड इंसान के सिर पे चढ़ जाता है !!
तब इंसान कुछ देख नहीं पाता है !!
और जब घमंड चूर-चूर होता है !!
तो हर रिश्ता उस इंसान से दूर होता है !!

घमंड तब होता है जब हम अपने सफलता को !!
सिर्फ अपनी मेहनत का ही हसीना मानते हैं !!
और दूसरों की मेहनत को नजरअंदाज करते हैं !!

से अलग होने के बाद !!
मुझे तेरे घमंड का पता चल गया !!
लोग सिर्फ पैसे वाले इंसानों से ही !!
बात करना पसंद करते हैं !!

हर घमंडी के घमंड का अंत !!
अपने आप ही होता हैं !!
याद रखना हर बाप का भी !!
एक बाप होता है !!

घमंड में हस्तियाँ !!
और तूफान में कश्तियाँ !!
अक्सर डूब जाया करती हैं !!

हौसलों को हमेशा हवा में रखना !!
पर कुछ हासिल करने के बाद !!
हवा में मत उड़ने लगना !!

जीत किसके लिए हार किसके लिए !!
जिन्दगी भर ये तकरार किसके लिए !!
जो भी आया हैं वो जाएगा एक दिन !!
फिर ये इतना अहंकार किसके लिए !!

जब इंसान घमंड के सिर पे चढ जाता है तब !!
इंसान कुछ देख नहीं पाता है !!
और जब घमंड चूर-चूर होता है तो !!
हर रिश्ता उस इंसान से दूर हो जाता है !!

अमीरी के गुरूर में इंसान !!
कहां अपने दिल की सुनता है !!
चाहता किसी और को है लेकिन !!
जीवन साथी किसी और को चुनता है !!

किस बात का इतना घमंड किस बात का !!
इतना गुरूर !!वक़्त के हाथों बने सब शेर !!
वक़्त ही करे सब चकनाचूर !!

Milan Shayari In Hindi | मिलन शायरी हिंदी

Ghamand ke upar shayari

घमण्ड और पेट ये दोनो एक हद तक ही बढ़नी चाहिए !!
यदि दोनो बढ़ जाए तो इंसान चाह !!
कर भी अपनो को गले से नही लगा सकता !!

किस बात का बन्दे तुझे गुरूर है !!
कि पैसा और शोहरत चारो ओर है !!
एक दिन ये सब कुछ छूट जाएगा !!
तब तू किस बात का घमंड दिखाएगा !!

लोहे को कोई खराब नही कर सकता !!
पर उसका खुद का जंग उसे खराब कर देता है !!
वैसे ही इंसान को उसका घमण्ड बर्बाद कर देता है !!

हम आज भी शतरंज का खेल !!
दोस्तों के साथ नही खेलते हैं !!
क्योकि दोस्तों के खिलाफ चाल चलना !!
हमें अच्छा नहीं लगता हैं !!

बहुत खूब उसने मुझे वफा का सिला दिया !!
अमीर हमसफर मिलते ही मुझे भुला दिया !!
घमंड किस बात का रब हैं दोनो का एक !!
तुझे खुशीया दी मुझे सहने का हौसला दिया !!

जा जाने किसने ये परिवार बनाया होगा !!
पर जिसने भी बनाया होगा इतना तो यकीन हैं !!
उसने सबसे पहले प्यार बनाया होगा !!

मुसीबत मे खड़ा जो साथ बन दीवार होता है !!
हमारा हौसला हिम्मत वही परिवार होता है !!
कबड़े मजबूत दुनिया मे लहू के रिश्ते होते है !!
कहाँ सबके नसीबो मे लिखा ये प्यार होता है !!

परिवार मे हो विश्वास और समझदारी !!
तो कोई भी कष्ट ना लगे भारी !!
और जहाँ विश्वार की डोर हिले !!
वहाँ होने लगे बेफिजूल शिकवे- गले !!

ना इतराओ इतना बुलंदियों को छूकर !!
वक्त के सिकन्दर पहले भी कई हुए हैं !!
जहाँ होते थे कभी शहंशाह के महल !!
देखे हैं वहीं अब उनके मकबरे बने हुए हैं !!

रूबरू होने की तो छोड़िये !!
लोग गुफ़्तगू से भी कतराने लगे हैं !!
गुरूर ओढ़े हैं रिश्ते !!
अपनी हैसियत पर इतराने लगे हैं !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *